Wednesday, July 08, 2015

Art Vibration - 391

I did dedicated a week to  Our Digital INDIA Week…

Friendra last seven days I did dedicated to  my nation as a dedicated artist of visual art . you know  our Government of INDIA was celebrated a week with sound of Digital format . our Government of INDIA was taken some strong action for fast progress through Digital format  in our nation INDIA . so Government was gave name to a week DIGITAL INDIA week .

I can say it was a great start for education about nation or that’s generation . our Government of INDIA will take more digital action for better future  ,it was commitment of government of INDIA by a Digital INDIA Week Title .

As a Indian  art master  I am also part of  my nation you can take me in list of a educative member of  my digital INDIA , because after 2003 to till 2015  I am connect  to this Digital format and by this Digital format I have promoted  to visual art of myself or others for real communication of art to  our world about better creative future .

 In a week of Digital  INDIA week I were got a self commitment for daily digital update with real digital sound or that’s real impact on social system .

I were updated seven posts in seven days  with different action of public relation in digital format.

First day  I were updated  two image of  my home TV for sale  on a online Digital  sale market  that’s name is OLX .there near 100 people were visited to  my digital action and someone connected  to me ..i did not sold  my TV at present but many INDIAN people are talking to me about  my digital action of First day of DIGITAL INDIA Week.

Second day I were updated a link of  my art vibration blog link for our world family , that was a new post on great art critic Sir Vinod Bhardwaj INDIA . my digital update was touched to vision of Sir Vinod Bhardwaj and he was gave me thanks and with his thanks I were connected near to 200 artists and literature persons of INDIA , because he was updated a thanks word  on his page by his own digital action..

Third day I were updated a image of  my Niece Master Sharad Joshi , he is a young cricketer and he was achieved man of the match in a final match of cricket tournament , actually I were promoted  to  my niece for update his achievement on digital format  and he was done that first time . so I were connected  to one more nation youth to Digital web world for a right image of his sport energy  .

Fourth day I were shared a digital image of  my painting * Myself * for visit of our world family , this art activity I am doing continue to last  eight years so I were jointed that to our Digital INDIA week .
 Fifth day I were updated a video link of Charlie chaplin Film . we know how to Charlie Chaplin was created his art work  and today his very creative and funny art work is available on digital format so I did shared that for our world visit ..or about  some fun  in critical condition of real life..
Six day I were updated a post and image of Dr. Amitabh bachchan  from His own blog . in that post I did showed  how to a artist get love and how to he /she create public relation by art . today we all know Dr. Amitabh bachchan is living in heart of their true fan’s .

And on seventh day I were updated a real relation of  myself with Dr Amitabh bachchan ..in that post I shared kinds words fo Dr Amitabh bachchan he was posted  me in  digital format through his blog .
 So  you can say I were celebrated to our nation a DIGITAL INDIA WEEK very well  and here I want to share that all seven days update for you .

All posts are in Hindi text . so I hope  you will get right translation  from Google or other translator’s of Digital format .

1.मित्रों आज मैंने भी हमारे घर की दो पुरानी कलर टीवी सेट को ओ एल एक्स पर डालदिया बेचने को टीवी की तस्वीरों के साथ ! वैसे ओ एल एक्स की वेब पेज की तरफ से मुझे पहले पहल एक ई मेल २०१३ में मिली मैंने भी उत्साह से अपना खता उस वेब पेज पर बना दिया और आज २ साल बाद पहली बार ओ एल एक्स पर कोई वस्तु विक्रय के लिए चढ़ा दी एक साथ दो कलर टीवी। इस पेज लिंक के जरिये http://olx.in/item/two-old-color-tv-for-you-IDVv4ew.html आप भी मुलायजा फार्मा सकते है ! ओ एल एक्स पे बेचदे के टीवी विज्ञापन के अनुसरण की मेरी पहली पहल की … जय हो

2 . मित्रों आज डिजिटल इंडिया वीक के दूसरे दिन मैंने एक और प्रयास किया है , देश के जाने माने कला समीक्षक श्री विनोद भारद्वाज जी जो कलात्मक शब्दों से , बरसो से भारतीय कला और उसके कलाकारों के लिए माला पिरोते रहे है ! आज मैंने उनके लिए एक हजार शब्दों से उनकी कलात्मक दृस्टि के रुद्राक्ष के मोती को पिरोने की कोशिश की है और उसे साझा किया है डिजिटल फॉर्मेट आर्ट वाइब्रेशन ब्लॉग पर ! जिसे आप भी अवलोकित कर सकते है , इस लिंक के जरिये।

http://yogendra-art.blogspot.in/


3. मित्रों आज डिजिटल इंडिया वीक के तीसरे दिन मैंने मेरे भतीजे मास्टर शरद जोशी को हाल ही में जोधपुर में खेले गए क्रिकेट टूर्नामेंट में बीकानेर के फाइनल तक जाने और उस फाइनल में शरद जोशी द्वारा शानदार ५२ रन का योगदान देकर सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने हेतु मैन ऑफ़ दा मैच की ट्रॉफी हासिल करने की इस रचनात्मक उपलब्धि की खबर को विश्व क्रिकेटरस के साथ साझा करने को प्रेरित किया और मास्टर शरद जोशी ने अपने मैन ऑफ़ दा मैच की ट्रॉफी के साथ एक फोटो डिजिटल वेब वर्ल्ड पर साझा किया है और साथ में देश के जाने मने वरिष्ठ खिलाडियों को भी भेजा है ! कुल मिलाकर आज एक और प्रतिभावान युवा खिलाडी ने अपने आप को डिजिटल इंडिया वीक में उपस्थित किया है एक सकारात्मक पहल के साथ जिसमे मेरा नहीं है कोई हाथ केवल और केवल प्रोत्साहन के बाद .... !

4. मित्रों डिजिटल इंडिया वीक के चौथे दिन मैं आप से साझा कर हूँ, मेरा बनाया एक चित्र कोलाज शैली में जो रंगीन मैगज़ीन के पेपर से कटिंग करके आत्मा अनुभूति को प्रतीकात्मक रूप में अभिव्यक्त कर रहा है और ये अभिव्यक्ति का क्रम पिछले आठ साल से निरंतर जारी है अविरल धारा प्रवाह की तरह जिसे मैंने नाम दिया है माइसेल्फ ! मेरे इस माइसेल्फ से आप अपने योरसेल्फ को पकड़ने की कोशिश कर सकते है और मेरा विश्वास है की एक स्थान पर आप खुद को पकड़ पाएंगे समझ पाएंगे इस चित्र का अवलोकन करने के बाद जो की डिजिटल फॉर्म में है और जिसे मै आप के लिए उपलब्ध करवा रहा हूँ डिजिटल इंडिया वीक के चलते … जय हिन्द …

Myself  Painting 


5. मित्रों डिजिटल इंडिया वीक के पांचवे दिन आप को गुद गुदाने के लिए ऐतिहासिक फिल्म दा ग्रेट डिक्‍टेटर जिसे ग्रेट सिने मास्टर ग्रेट चार्ली चैप्लिन ने निर्देशित किया था अति अभाव के माहौल और तनाव के माहौल में , फिर भी उनकी वो कलाकारी आज भी हमारे तनाव को ठीक वैसे ही कम करती है जैसे की उस समय किया करती थी , जब उन्होंहे इसे बनाया था समाज के लिए ! तब ये डिजिटल व्यवस्था भी नहीं थी! पर आज उनकी कलाकारी डिजिटल व्यवस्था में उपलब्ध है यू ट्यूब के माध्यम से ! सो मुझे लगा आज अतीत के उस महान कलाकार और उसके महान कला कर्म को आप के साथ साझा किया जाए और आप को गुद गुदाया जाए इस डिजिटल इंडिया वीक के पांचवे दिन … 
दा ग्रेट डायरेक्टर फिल्म का लिंक ये है जो यूट्यूब से साझा कर रहा हूँ आप के लिए …! 



6. मित्रों आज डिजिटल इंडिया वीक के छठे दिन मै आप के साथ एक सच साझा करना चाहता हूँ जो की कला के जरिये सम्भव है और हो रहा है और होता भी रहेगा ! क्यों की कला इसी लिए रची गयी है हमारे जीवन के लिए। मैं यहाँ डिजिटल इमेज साझा कर रह हूँ जिसे मैंने आज देखा सदी के सब से बड़े महानायक डॉ अमिताभ बच्चन जी के ब्लॉग पर , १९८२ के बाद से लगातार उनके चाहने वाले दर्शक जलसा नाम के बच्चन जी के घर के आगे एकत्रित होते है रविवार को , अपने मनो के स्नेह भाव को लेकर एक झलक पाने को बच्चन जी की वो झलक वास्तव में आत्मीय रिश्ते का प्रमाण होता है बच्चन जी और उनके चाहने वालों के बीच जिसे स्थापित करने की योजक कड़ी बनी हुई है कला और डॉ अमिताभ बच्चन जी का कला के प्रति आत्म समर्पण !
आज डिजिटल इंडिया वीक के छठे इस से बेहतर कुछ और साझा करने को नहीं लग रहा सो आप भी देखे कला , कलाकार और कलाप्रेमी के सच्चे रिश्ते की ये जिन्दा तस्वीर डिजिटल फॉर्मेट में इस डिजिटल इंडिया वीक के चलते ।
कुछ और रोचक तस्वीरें देखने के लिए मई डॉ अमिताभ बच्चन जी के ब्लॉग लिंक को आप के साथ साझा कर रहा हूँ जो डिजिटल वेब वर्ल्ड में अपना एक अलग स्थान स्थापित कर चूका है। .

Dr Amitabh Bachchan blessing to his well wishers ... from his Home 

7. मित्रों आज डिजिटल इंडिया वीक के अंतिम दिन मैं आप के साथ जीवंत डिजिटल वर्ल्ड का प्रमाण साझा करना चाहता हूँ जिसे देख आप भी मानेंगे की डिजिटल वर्ल्ड ने दिलों की दूरिया खत्म की है रिश्ते बनाने में दुनिया को नयी राह दी है ! कल आप के साथ सदी के महानायक डॉ अमिताभ बच्चन जी के ब्लॉग की बात और एक तस्वीर आप के साथ साझा की थी ! और आज उनके अंतर्मन से निकले शब्द जो मुझे मिले उनके डिजिटल ब्लॉग के जरिये डिजिटल फॉर्म में वे साझा कर रहा हूँ ! २००८ से मैंने अपने आप को प्रतिबद्ध कर के एक रिस्ता डॉ अमिताभ बच्चन जी से बनाया एक इ - शिष्य के रूप में जो आज तक जारी है और उनकी ज्ञान अनुकम्पा मुझ पर निरंतर उनके स्नेह और मार्ग दर्शन के साथ बानी हुई है , मेरी कला यात्रा के लिए ! जिसके लिए मैं सदा उनका ऋणी रहूँगा । इस लम्बे समय के रिश्ते का माध्यम बना हुआ है डिजिटल वेब वर्ल्ड उनके ब्लॉग से एक लम्बा और विश्वसनीय रिस्ता बिना उनसे साक्षात हुए ही बन गया है ! वैसे कहते है रिश्ते आसमानो में ही बनते है और मैंने इस आसमानी रिश्ते को जिया है और जी रहा हूँ डिजिटल वेब वर्ल्ड में ! इस बात की पुष्टि मैं एक इमेज के साथ करना चाहता हूँ जिसमे डॉ अमिताभ बच्चन जी ने मुझे आज रिप्लाई में कमेंट देकर दिया और लिखा है , ** कीप वैल एंड कनेक्टेड ** 
आप जानते है कनेक्टेड वर्ड डिजिटल वेब वर्ल्ड का है और उसके लिए ही उपियोग में लिया जाता है अन्य लोगो से जुड़ने हेतु। आज डिजिटल इंडिया वीक के अंतिम दिन मुझे इससे बेहतर और कुछ नहीं लग रहा आप के साथ साझा करने को। सो मेरे डिजिटल इंडिया की .... जय हो ....
My Updates of Digital INDIA Week , it all updates were  updated on facebook page.of myself .

So here I said  I did dedicated a week to our Digital INDIA Week …

Yogendra  kumar purohit
Master of Fine Art
Bikaner, INDIA 

No comments: